नई दिल्ली-उत्तरी दिल्ली के पूर्व महापौर श्री जय प्रकाश ने आज कहा कि दिल्ली सरकार उत्तरी दिल्ली नगर निगम के क्षेत्र में आने वाले शहरीकृत गांवों में मूलभूत सुविधाएँ प्रदान करें ताकि नागरिकों को बेहतर सुविधाएँ मिल सके और विकास कार्य किए जा सकें। श्री जय प्रकाश ने बताया कि उत्तरी दिल्ली नगर निगम ने 2018 में लगभग 31 गांवों की सूची दिल्ली सरकार को भेजी थी दिल्ली सरकार द्वारा अभी तक इस ओर कोई क़दम नहीं उठाया गया है जिसके कारण शहरीकृत घोषित किए गए गाँव में मूलभूत सुविधाएँ नहीं पहुँच पाई हैं। उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार ने नवंबर 2019 में दक्षिणी, उत्तरी और पूर्वी दिल्ली नगर निगम के तहत आने वाले क़रीब 80 गांवों को शहरीकृत घोषित किया था। श्री जय प्रकाश ने बताया कि दिल्ली सरकार की लापरवाही के कारण शहरीकृत गाँव में रह रहे नागरिकों को सड़क, पानी और जल निकासी जैसी मूलभूत सुविधाएँ नहीं मिल पा रही है। उन्होंने बताया कि अगर दिल्ली सरकार समय रहते इस ओर क़दम उठा लेती तो आज इन शहरीकृत गांवों में भी विकास कार्य प्रारंभ हो गए होते। उन्होंने दिल्ली सरकार से निवेदन किया कि वो इस ओर जल्द से जल्द क़दम उठाए ताकि इन शहरीकृत गांवों में नागरिकों को मूलभूत सुविधाएँ समय पर मिल सके।

Posted By: संवाददाता