नईदिल्ली-संवददाता,आज सिविक सेंटर में आयोजित प्रेस वार्ता में दक्षिणी निगम के महापौर श मुकेश सुर्यान, उप-महापौर पवन शर्मा और नेता सदन इंद्रजीत सहरावत ने दिल्ली सरकार पर उनके डेंगू मलेरिया और चिकनगुनिया वाले पोस्टर औऱ प्रचार पर आरोप लगाते हुए कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरबिंद केजरीवाल केवल प्रचार की राजनीति करती है, और दिल्ली सरकार द्वारा चला जा रहा अभियान ’’10 हफ्ते, 10 बजे, 10 मिनट’’ केवल दिखावा है। दिल्ली के मुख्यमंत्री ये जवाब दें कि केवल प्रचार से कैसे दिल्ली में डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनियां जैसी बीमारियों की रोकथाम हो सकती है,इस अवसर पर महापौर मुकेश सुर्यान ने कहा कि दिल्ली के मुख्यमंत्री निगम द्वारा मच्छरजनित बीमारियों की रोकथाम के लिए किए जा रहे कार्यों का श्रेय स्वयं लेना चाहते है,जबकि सच यह है कि मच्छरजनित बीमारियों की रोकथाम के लिए दक्षिणी निगम द्वारा जमीनी स्तर पर कार्य कर रहा है। दक्षिणी निगम ने कोरोनाकाल के दौरान विपरीत चुनौतियों व सीमित संसाधनों के बावजूद भी मच्छरजनित बीमारियों के नियंत्रण के लिए विशेष प्रयास किये। हमारे 1130 डी.बी.सी. कर्मचारियों व 1300 फील्डकर्मी लगातार क्षेत्र में जाकर डेंगू, मलेरिया और चिकनगुनियां जैसी बीमारियों की रोकथाम के लिए छिड़काव कर रहे है। 550 फाॅगिंग मशीन, 8 बड़े वाहन, 4 पावर टैंकर, 1070 पिट्ठू पंप, 46 मोटर पंप द्वारा लगातार मच्छरों के नियंत्रण के लिए दवा का छिड़काव किया जा रहा है। डी.बी.सी. कर्मचारियों द्वारा अभी तक 57,78,889 घरों का भी निरीक्षण किया गया जिसमें से 37,552 में मच्छर का प्रजनन पाया गया। हम डी.बी.सी. कर्मचारियों को नियमित करने के और भी कार्य कर रहे है। डी.बी.सी. कर्मचारियों के पदों के सृजन की फाइल दिल्ली सरकार को भेजी जा चुकी है। दिल्ली सरकार से स्वीकृति प्राप्त होने के बाद डी.बी.सी. कर्मचारियों को नियमित किया जाएगा।

Posted By: संवाददाता