नई दिल्ली- शिरोमणि अकाली दल दिल्ली ने पार्टी प्रधान परमजीत सिंह सरना की अगुवाई में सदस्यता अभियान चलाते हुए, बड़ी संख्या में नौजवानों को शिअदद की सदस्यता दिलवायी। सदस्यता अभियान शिअदद,यूथ विंग के महासचिव गुरप्रीत सिंह(लाली), मालवीय नगर की देख-रेख में चलाया गया। नए सदस्यों का स्वागत करते हुए सरना ने नौजवानों को पंथ से जुड़े मुद्दों को लेकर जागरूक होने की अपील की। इसके साथ ही उन्होंने दिल्ली गुरुद्वारा प्रबंधन कमिटी में होने वाले बदलावों को लेकर अपने विचार साझा किए। सरना ने बताया कि," आज हमारे कर्मचारियों को 8-8 महीनो से तन्ख्वाह नही मिल रही है। हालात ऐसे है कि अध्यापको को कमिटी प्रधान के कार्यालय में घुसकर अपने मेहनत की कमायी माँगनी पड़ रही है और नेता जी के पास अपने ही स्टॉफ से मिलने को समय तक नही है। हमारे स्कूल, कॉलेज सब खंडहर बन चुके है। जब बच्चो का भविष्य ही नही होगा तो ,पंथ का भविष्य कैसे बचेगा ? " अपने विजन को गिनवाते हुए दिल्ली गुरुद्वारा प्रबधंन कमिटी के पूर्व प्रधान सरना ने अध्यापको को फिर से 30 तारीख को तन्ख्वाह जारी करने का वादा किया। बच्चो के लिए नए कौशल केंद्र स्थापित करने का अस्वाशन दिया । उन्होंने दावा किया कि, "हमारे समय में बच्चो लाख रुपए/महीने तक की तन्ख्वाह मिलती थी जो अब सब बर्बाद हो चुका है। आप नौजवान साथियों को प्रचार और बहकावे वाले बयानों से परहेज करते हुए,जमीनी हकीकत देखना होगा। इस बार आप अपनी अंतरात्मा की आवाज़ को सुनकर वोट करें। " यूथ विंग प्रधान रमनदीप सिंह सोनू ने नए सदस्यों का स्वागत करते हुए अपने पार्टी की उपलब्धियों को गिनवाया। "हमारे समय मे जीएचपीएस स्कूलों में एडमिशन लेने के लिए लाइने लगती थी। आज कोई अपने बच्चो को जीएचपीएस में भेजना नही चाहता। संस्थानों की हालत जर्जर है। सरदार परमजीत सिंह सरना जी के समय मे कोई ऐसा क्षेत्र नही था, जिसमे भूतपूर्व कार्य नही हुए। अमृतसर में संगत के लिए सराय, 4-4 कॉलेज, डिग्री कालेज और बीएड कॉलेज भी बनाया। " मालवीय नगर सदस्यता अभियान की अगुवाई कर रहे गुरप्रीत सिंह (लाली) ने विरोधियों को आड़े हाथों लेते हुए बताया कि " बादल के लोग सिर्फ संगत को गुमराह कर रहे है। बाला साहिब अस्पताल का वादा था और हमे एक डायलिसिस सेंटर देकर भरमाया जा रहा है। प्रचार की आड़ में संगत और पंथ की भलाई पीछे जा चुकी है। " सदस्यता अभियान में हरगोबिंद इन्क्लेव, सुल्तानपुर, शेख सराय फेस-2,मालवीय नगर, फतेहपुर बेरी, छतरपुर, छतरपुर एक्सटेंशन इत्यादि जगहों से संगत सम्मिलित हुयी।

Posted By: विशेष संवाददाता